गुरुवार, 30 जनवरी 2014

आहार-विहार को ठीक रखके ही स्वस्थ रहा जा सकता है-लाल बिहारी लाल सोनू गुप्ता ई दिल्ली : भारतीय चिकित्सा पद्द्ति एवं स्वास्थ पर कार्यरत संस्था सिम्पैथी द्वारा 65 वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर “स्वस्थ जीवन शैली” विषय पर एक परिचर्चा आयोजित हुई । परिचर्चा का शुभारंभ देश भक्ति गीत से शुरु हुआ । इस कार्यक्रम में शक्ति हर्बल रिसर्च इन्स्टिट्यूट के निदेशक डा शदाब अहमद ने कहा कि नेचर को साथ रख कर स्वस्थ जीवन शैली अपनाना एक आर्ट है हम सभी का दायित्व भी है कि हम नेचर को साथ रख कर अपनी जीवन शैली ठीक रखें । संस्था के निदेशक डा आर कांत ने स्वास्थ्य ही धन है इस पर लोगों को बताते हुये कहा कि बिना स्वस्थ रहे धनी होना संभव नही है ,वहीं प्रतिभा जननी सेवा संस्थान की स्टेट कोडिनिटेर अनिता गौतम ने माताओं एवं बहनों को “स्वस्थ जीवन शैली” अपनाने पर बल दिया जबकि दिल्ली रत्न ,समाजसेवी एवं पर्पयावरणप्रेमी लाल बिहारी ने भी अपने बक्तब्यय में कहा कि भागमभाग भरी जिन्दगी में आहार- विहार(खान-पान) को ठीक रख के ही आधुनिकनिक जीवन शैली के बावयूदभी स्वस्थ्य रहा जा सकता है। इस कार्यक्रम मेकी अध्यक्षता डा बी बी सिंह ने किया, केयर प्रामिस वेल्फ़ेयर सोसाइटी के डा के के तिवारी, सिम्पैथी के उपाध्यक्ष डा अख्तर हुसैन अंसारी, शिक्षक के पी सिंह, समाजसेवी राकेश कन्नौजी बियोन्डहेडलाइन्स के संपादक अफ़रोज आलम,पत्रकार मनोज सिंह सहित कई बुद्धिजीवियों ने भाग लिया । इसके अलावे संस्था द्वारा निशुल्क स्वास्थ्य शिविर का भी आयोजन किया जिसका उद्घाटन विधायक राममबीर सिंह बिधूडी ने किया। सिम्पैथी की अध्यक्षा सीमा तिवारी ने सभी अतिथियों का स्वागत करते हुए संस्था द्वारा किये जा रहे कार्यो के बारे में विस्तार से बताया और धन्यवाद भी दिया । इस स्वास्थ्य शिविर का लाभ सैकडो ब्यक्तियों ने उठाया।

1 टिप्पणी:

  1. बहुत ज्ञान वर्धक आपकी यह रचना है, मैं स्वास्थ्य से संबंधित कार्य करता हूं यदि आप देखना चाहे तो यहां पर click Health knowledge in hindi करें और इसे अधिक से अधिक लोग के पास share करें ताकि यह रचना अधिक से अधिक लोग पढ़ सकें और लाभ प्राप्त कर सके।

    उत्तर देंहटाएं